Success Story of Sundar Pichai || Motivational Story || Sundar Pichai Biography


हैलो दोस्तो, मैं हूं आकांक्षा कश्यप सिंह और मैं आप सभी का स्वागत करती हूं अपने ब्लॉग STORY OBSESSION पर। इसके पहले पोस्ट में मैने आपको 11 amazing facts से रूबरू कराया था। और आज मैं आपको एक ऐसे व्यक्ति की Success Story बताने जा रहीं हुं जिसको पूरी दुनिया जानती है। और जिसकी कहानी वाकई में Motivational है।

कंटेंट की सूची 

  • सुंदर पिचाई की पढ़ाई 
  • सुंदर पिचाई सीईओ कैसे बने
  • सुंदर पिचाई नेट वर्थ
  • सुंदर पिचाई लव स्टोरी 
  • सुंदर पिचाई वाइफ 
  • Conclusion
  • Share this post
  • अन्य पढ़े

तो आइए शुरु करते हैं ।।

दोस्तों हम सबने एक बात तो सुना होगा कि बड़ा आदमी बनने के लिए बड़ा सोचना होता है बड़ा काम करना होता है। ऐसे ना जाने कितने लोग आज पैसे कमाते है और बड़ा आदमी है। तो ज़रा सोचिए उनकी सोच में ऐसा क्या होता है जिससे वो बड़ा आदमी है और हम एक औसत जिंदगी जीते है।। 

Sundar Pichai


आज बात करेंगे हम गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई की उनकी जिंदगी की। उनकी जिसने गूगल जैसे इतने बड़े सर्च इंजन को डेवलप किया।। सुंदर पिचाई चेन्नई की एक साधारण सी फैमिली में 10th June 1972 को जन्म हुआ। उनके पिता रघुनाथ, एक जूनियर इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे। एक छोटा सा घर था सिर्फ दो कमरे का जहा पूरा परिवार एक कमरे मे और एक कमरा रेंट पर दे दिए। पैसे की कमी की वजह से ये सब कुछ करना पड़ा सुंदर पिचाई के पापा को।

सुंदर पिचाई अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई आईआईटी खड़गपुर से पूरा किया। और अपने पढ़ाई में टॉप करते थे। क्रिकेट में कप्तान थे सारी चीजों में इनका मुकाबला कोई नही कर सकता था। 

पोस्ट ग्रेजुएशन करने के लिए इनको स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से स्कॉलरशिप मिली जहा सारे खर्च वो यूनिवर्सिटी उठाता पर आने का खर्चा उन्हें उठाना था। प्लेन की टिकट इतनी ज्यादा थी की इनके पिता की एक साल की सैलरी चली गई और एक बैग खरीदने में खत्म हो गई। 

उनकी जिंदगी में तीन चीजों ने बहुत बड़ा रोल प्ले किया है पहला टेलीफोन, स्कूटी, और फ्रिज। उनके घर से मार्केट इतना दूर था की जाने आने में ज्यादा से ज्यादा वक्त बर्बाद हो जाता। मां जब सब्जी लेने जाति तो तीन वक्त की सब्जी लाने में बहुत वक्त लग जाता। इससे सुंदर पिचाई ने एक बात सीखी की मशीन टाइम को बचा सकता है। अगर उसे बेहतरी के लिए इस्तेमाल करे तो। 

पहले जहा एक कमरे में रहने के लिए बेबस हुआ करते थे आज कैलिफोर्निया के सिलिकॉन वैली में रहते है। यूनाइटेड स्टेट का सबसे बेहतर और समृद्ध जगह माना जाता है। इनकी पर्सनल नेट वर्थ 600 मिलियन डॉलर है जो इंडियल रूपी में देखे तो 2265 करोड़ रूपये की दौलत है। 


"Opportunities Don't happen, you create them" by Sundar Pichai । ये कहना सुंदर पिचाई का है।

एक बार की बात है जब वो यूएस में रहते थे तब एक दोस्त का इन्विटेशन आया और उन्हें खाने पर जाना था। उन्होंने अपनी वाइफ को बोला आप घर से चले जाओ मैं ऑफिस से आ जाऊंगा। उनकी बीवी बोली ठीक है। रात के आठ बजे उन्हे जाना था डिनर के लिए। वो रास्ते में जब थे तो वो रास्ता भटक गए। उन्हें याद भी नहीं आया। पहुंचना था आठ बजे और पहुंचे दस बजे। जब वो वहा पहुंचे तो डिनर खत्म हो चुका था और उनकी बीवी तब तक चली गई थी। वो वापस आ गए घर। जब घर पहुंचा तो बीवी ने खुद डाटा और घर से निकल दिया। 

ऐसा करने पर सुंदर पिचाई अपने ऑफिस में जा कर रेस्ट करने लगे लेकिन, वो परेशान थे की वो रास्ता भूल गए, और ये बात उन्हे इतनी परेशान की की वो बस सोचते रहे रात भर। अगले दिन सुबह अपनी टीम को इक्कठा किया और सब से कहां की कोई ऐसी टेक्नीक निकालो जिससे लोगो को रास्ता पता करने में कोई दिक्कत ना हो और वो कही भी कोई भी रास्ते में हो वो आपनी मंजिल तक पहुंच जाए। 

सबने सोच की ऐसा करना पॉसिबल है क्या लेकिन, 50 लोगो की टीम तैयार की और दो दिनों तक लगातार काम किया। और गूगल मैप 2005 में लॉन्च कर दिया। जब भी कोई प्राब्लम में पड़ते थे तो किसी न किसी चीज का लॉन्च कर देते। 

ऐसे ही एक बार अपनी बेटी के साथ घर के गार्डन में नाश्ता कर रहे थे और तभी उनकी बेटी ने पूछा की पापा इस फूल का नाम क्या है उन्होंने कहा नही पता। तो उनकी बेटी ने हस दिया की आप इतने बड़े बड़े यूनिवर्सिटी से पढ़ कर आए है किसलिए जब आपको इस फूल का नाम ही नही पता तो। 

ये बात उनको घर कर गई और उन्होंने फिर से अपनी टीम बनाई और कहा की कितना अच्छा होगा अगर लोग किसी भी प्रोडक्ट को स्कैन करे और उन्हें उनके बारे में सारे डिटेल मिल जाए। और तब आया गूगल लेंस जिसे स्कैन करके कुछ भी पता कर सकते है। 

ऐसे करते करते हमेशा कुछ न कुछ होता गया और वो लॉन्च करते गए।


सुंदर पिचाई की लव स्टोरी  

कहते है प्यार का अहसास सबसे अच्छा होता है। दुनिया में जिसके साथ प्यार है वो कोई भी मुश्किल को पार कर सकता है। ऐसा ही प्यार सुंदर पिचाई को अंजली हरयानी से हुआ। जिस आईआईटी खड़गपुर में सुंदर पिचाई अपनी इंजीनियरिंग कर रहे थे उसी कॉलेज में अंजली हरयानी भी कर रही थी। 

अंजली हरयानी अपने गर्ल्स हॉस्टल में रहती थी और सुंदर बॉयज होस्टल में। दोनो की फैमिली कुछ खास पैसे वाले नही थी। सुंदर पिचाई ने जब उन्हें देखा था तो बस उन्हे देखते रह गए और आगे भी साथ रहने का डिसीजन बना लिया। जब भी उन्हें मिलना होता था तो वो अंजली कह कर पुकार लगाते थे और वो उनसे मिलने आ जाती थी। सुंदर पिचाई एक ऐसे व्यक्ति है जिन्हे देख कर कोई कह नहीं सकता था की इन्हे कोई लड़की पसंद हो सकती है। एक दम सीधे, सीरियस रहने वाले, अपने काम पर फोकस रखने वाले।

उनके प्यार के चर्चे पूरे कॉलेज में फेमस थे। और सभी जानते थे। लेकिन जब उनका एडमिशन स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में हुआ तो उनके बीच काफी दूरी थी। और छह महीने तक कोई बातचीत नहीं हुई। वहा से पढ़ाई करने के बाद जब उनकी पहली जॉब लगी तो सबसे पहले उन्होंने अंजली के पिता से शादी की बात की और दोनो ने शादी कर ली।

अब उनके दो बच्चे है काव्या और किरण। अपनी जिंदगी में खुश है सफल है। 

सुंदर पिचाई हमारे देश के उन नागरिक में से एक है जिनपे भारत को गर्व होता है। और गूगल इनको 2265 करोड़ रूपए देता है एक महीने की सैलरी के रूप में। 

इतने अमीर होने के बावजूद इतने अच्छे और सज्जन इंसान है ये पूरी दुनिया जानती है। 


Conclusion

हमे इनकी जिंदगी से जो सीख मिलती है मैं उन्हें हाईलाइट करना चाहूंगी। 


कैरियर को अपने रिश्ते के बीच न आने दे।

सुंदर पिचाई अगर चाहते तो पहले अपना करियर बनाते। लोगो को ऐसा लगता है की अगर कोई प्यार करता है या रिलेनशिप में होता है तो उसका कैरियर दाव पे लग जाता है। पर अगर रिलेनशिप में सब कुछ अच्छे से हैंडल किया जाए तो उससे कभी कुछ एफेक्ट नही करता। 


अपने गोल्स के साथ कमिटेड रहे 

आज हम सोचते कुछ और है और करते कुछ और। जो मर्जी कीजिए लेकिन को सबसे पहले करना है उसको किसी भी चीज के लिए मत छोड़िए। अपने सपने अपने गोल के प्रति हमेशा वफादार रहे।


दोस्तो कैसी लगी सुंदर पिचाई की बायोग्राफी comment करके हमे जरूर बताना। और साथ ही साथ अगर किसी को मोटिवेशन की ज़ररत हो तो share कीजिए ताकि वो भी सक्सेस कर सके।।

अन्य पढ़े 

1. How to get rid of porn addiction 

2. Inspirational story 

3. बेस्ट फ्रेंडशिप स्टोरी

आपके समय के लिए धन्यवाद !



 Success Story of Sundar Pichai || Motivational Story || Sundar Pichai Biography


हैलो दोस्तो, मैं हूं आकांक्षा कश्यप सिंह और मैं आप सभी का स्वागत करती हूं अपने ब्लॉग STORY OBSESSION पर। इसके पहले पोस्ट में मैने आपको 11 amazing facts से रूबरू कराया था। और आज मैं आपको एक ऐसे व्यक्ति की Success Story बताने जा रहीं हुं जिसको पूरी दुनिया जानती है। और जिसकी कहानी वाकई में Motivational है।

कंटेंट की सूची 

  • सुंदर पिचाई की पढ़ाई 
  • सुंदर पिचाई सीईओ कैसे बने
  • सुंदर पिचाई नेट वर्थ
  • सुंदर पिचाई लव स्टोरी 
  • सुंदर पिचाई वाइफ 
  • Conclusion
  • Share this post
  • अन्य पढ़े

तो आइए शुरु करते हैं ।।

दोस्तों हम सबने एक बात तो सुना होगा कि बड़ा आदमी बनने के लिए बड़ा सोचना होता है बड़ा काम करना होता है। ऐसे ना जाने कितने लोग आज पैसे कमाते है और बड़ा आदमी है। तो ज़रा सोचिए उनकी सोच में ऐसा क्या होता है जिससे वो बड़ा आदमी है और हम एक औसत जिंदगी जीते है।। 

Sundar Pichai


आज बात करेंगे हम गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई की उनकी जिंदगी की। उनकी जिसने गूगल जैसे इतने बड़े सर्च इंजन को डेवलप किया।। सुंदर पिचाई चेन्नई की एक साधारण सी फैमिली में 10th June 1972 को जन्म हुआ। उनके पिता रघुनाथ, एक जूनियर इलेक्ट्रिकल इंजीनियर थे। एक छोटा सा घर था सिर्फ दो कमरे का जहा पूरा परिवार एक कमरे मे और एक कमरा रेंट पर दे दिए। पैसे की कमी की वजह से ये सब कुछ करना पड़ा सुंदर पिचाई के पापा को।

सुंदर पिचाई अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई आईआईटी खड़गपुर से पूरा किया। और अपने पढ़ाई में टॉप करते थे। क्रिकेट में कप्तान थे सारी चीजों में इनका मुकाबला कोई नही कर सकता था। 

पोस्ट ग्रेजुएशन करने के लिए इनको स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से स्कॉलरशिप मिली जहा सारे खर्च वो यूनिवर्सिटी उठाता पर आने का खर्चा उन्हें उठाना था। प्लेन की टिकट इतनी ज्यादा थी की इनके पिता की एक साल की सैलरी चली गई और एक बैग खरीदने में खत्म हो गई। 

उनकी जिंदगी में तीन चीजों ने बहुत बड़ा रोल प्ले किया है पहला टेलीफोन, स्कूटी, और फ्रिज। उनके घर से मार्केट इतना दूर था की जाने आने में ज्यादा से ज्यादा वक्त बर्बाद हो जाता। मां जब सब्जी लेने जाति तो तीन वक्त की सब्जी लाने में बहुत वक्त लग जाता। इससे सुंदर पिचाई ने एक बात सीखी की मशीन टाइम को बचा सकता है। अगर उसे बेहतरी के लिए इस्तेमाल करे तो। 

पहले जहा एक कमरे में रहने के लिए बेबस हुआ करते थे आज कैलिफोर्निया के सिलिकॉन वैली में रहते है। यूनाइटेड स्टेट का सबसे बेहतर और समृद्ध जगह माना जाता है। इनकी पर्सनल नेट वर्थ 600 मिलियन डॉलर है जो इंडियल रूपी में देखे तो 2265 करोड़ रूपये की दौलत है। 


"Opportunities Don't happen, you create them" by Sundar Pichai । ये कहना सुंदर पिचाई का है।

एक बार की बात है जब वो यूएस में रहते थे तब एक दोस्त का इन्विटेशन आया और उन्हें खाने पर जाना था। उन्होंने अपनी वाइफ को बोला आप घर से चले जाओ मैं ऑफिस से आ जाऊंगा। उनकी बीवी बोली ठीक है। रात के आठ बजे उन्हे जाना था डिनर के लिए। वो रास्ते में जब थे तो वो रास्ता भटक गए। उन्हें याद भी नहीं आया। पहुंचना था आठ बजे और पहुंचे दस बजे। जब वो वहा पहुंचे तो डिनर खत्म हो चुका था और उनकी बीवी तब तक चली गई थी। वो वापस आ गए घर। जब घर पहुंचा तो बीवी ने खुद डाटा और घर से निकल दिया। 

ऐसा करने पर सुंदर पिचाई अपने ऑफिस में जा कर रेस्ट करने लगे लेकिन, वो परेशान थे की वो रास्ता भूल गए, और ये बात उन्हे इतनी परेशान की की वो बस सोचते रहे रात भर। अगले दिन सुबह अपनी टीम को इक्कठा किया और सब से कहां की कोई ऐसी टेक्नीक निकालो जिससे लोगो को रास्ता पता करने में कोई दिक्कत ना हो और वो कही भी कोई भी रास्ते में हो वो आपनी मंजिल तक पहुंच जाए। 

सबने सोच की ऐसा करना पॉसिबल है क्या लेकिन, 50 लोगो की टीम तैयार की और दो दिनों तक लगातार काम किया। और गूगल मैप 2005 में लॉन्च कर दिया। जब भी कोई प्राब्लम में पड़ते थे तो किसी न किसी चीज का लॉन्च कर देते। 

ऐसे ही एक बार अपनी बेटी के साथ घर के गार्डन में नाश्ता कर रहे थे और तभी उनकी बेटी ने पूछा की पापा इस फूल का नाम क्या है उन्होंने कहा नही पता। तो उनकी बेटी ने हस दिया की आप इतने बड़े बड़े यूनिवर्सिटी से पढ़ कर आए है किसलिए जब आपको इस फूल का नाम ही नही पता तो। 

ये बात उनको घर कर गई और उन्होंने फिर से अपनी टीम बनाई और कहा की कितना अच्छा होगा अगर लोग किसी भी प्रोडक्ट को स्कैन करे और उन्हें उनके बारे में सारे डिटेल मिल जाए। और तब आया गूगल लेंस जिसे स्कैन करके कुछ भी पता कर सकते है। 

ऐसे करते करते हमेशा कुछ न कुछ होता गया और वो लॉन्च करते गए।


सुंदर पिचाई की लव स्टोरी  

कहते है प्यार का अहसास सबसे अच्छा होता है। दुनिया में जिसके साथ प्यार है वो कोई भी मुश्किल को पार कर सकता है। ऐसा ही प्यार सुंदर पिचाई को अंजली हरयानी से हुआ। जिस आईआईटी खड़गपुर में सुंदर पिचाई अपनी इंजीनियरिंग कर रहे थे उसी कॉलेज में अंजली हरयानी भी कर रही थी। 

अंजली हरयानी अपने गर्ल्स हॉस्टल में रहती थी और सुंदर बॉयज होस्टल में। दोनो की फैमिली कुछ खास पैसे वाले नही थी। सुंदर पिचाई ने जब उन्हें देखा था तो बस उन्हे देखते रह गए और आगे भी साथ रहने का डिसीजन बना लिया। जब भी उन्हें मिलना होता था तो वो अंजली कह कर पुकार लगाते थे और वो उनसे मिलने आ जाती थी। सुंदर पिचाई एक ऐसे व्यक्ति है जिन्हे देख कर कोई कह नहीं सकता था की इन्हे कोई लड़की पसंद हो सकती है। एक दम सीधे, सीरियस रहने वाले, अपने काम पर फोकस रखने वाले।

उनके प्यार के चर्चे पूरे कॉलेज में फेमस थे। और सभी जानते थे। लेकिन जब उनका एडमिशन स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में हुआ तो उनके बीच काफी दूरी थी। और छह महीने तक कोई बातचीत नहीं हुई। वहा से पढ़ाई करने के बाद जब उनकी पहली जॉब लगी तो सबसे पहले उन्होंने अंजली के पिता से शादी की बात की और दोनो ने शादी कर ली।

अब उनके दो बच्चे है काव्या और किरण। अपनी जिंदगी में खुश है सफल है। 

सुंदर पिचाई हमारे देश के उन नागरिक में से एक है जिनपे भारत को गर्व होता है। और गूगल इनको 2265 करोड़ रूपए देता है एक महीने की सैलरी के रूप में। 

इतने अमीर होने के बावजूद इतने अच्छे और सज्जन इंसान है ये पूरी दुनिया जानती है। 


Conclusion

हमे इनकी जिंदगी से जो सीख मिलती है मैं उन्हें हाईलाइट करना चाहूंगी। 


कैरियर को अपने रिश्ते के बीच न आने दे।

सुंदर पिचाई अगर चाहते तो पहले अपना करियर बनाते। लोगो को ऐसा लगता है की अगर कोई प्यार करता है या रिलेनशिप में होता है तो उसका कैरियर दाव पे लग जाता है। पर अगर रिलेनशिप में सब कुछ अच्छे से हैंडल किया जाए तो उससे कभी कुछ एफेक्ट नही करता। 


अपने गोल्स के साथ कमिटेड रहे 

आज हम सोचते कुछ और है और करते कुछ और। जो मर्जी कीजिए लेकिन को सबसे पहले करना है उसको किसी भी चीज के लिए मत छोड़िए। अपने सपने अपने गोल के प्रति हमेशा वफादार रहे।


दोस्तो कैसी लगी सुंदर पिचाई की बायोग्राफी comment करके हमे जरूर बताना। और साथ ही साथ अगर किसी को मोटिवेशन की ज़ररत हो तो share कीजिए ताकि वो भी सक्सेस कर सके।।

अन्य पढ़े 

1. How to get rid of porn addiction 

2. Inspirational story 

3. बेस्ट फ्रेंडशिप स्टोरी

आपके समय के लिए धन्यवाद !



Post a Comment

If u have any comments or feedback,let me know.

और नया पुराने